Top
undefined

एक लाख का इनामी बदमाश टिंकू कपाला मुठभेड़ में ढेर

एक लाख का इनामी बदमाश टिंकू कपाला मुठभेड़ में ढेर
X

बाराबंकी। लखनऊ के मोस्ट वांटेड अपराधी टिंकू कपाला उर्फ कमल किशोर को यूपी एसटीएफ ने शुक्रवार रात बाराबंकी में मुठभेड़ के दौरान मार गिराया। उत्तर प्रदेश, गुजरात और महाराष्ट्र समेत अन्य राज्यों में आतंक का पर्याय बने टिंकू कपाला पर एक लाख रुपए का इनाम घोषित था। वर्ष 2019 में टिंकू ने कृष्णानगर स्थित आरके ज्वैलर्स में डकैती डालकर दो लोगों की हत्या की थी। इस मामले में पुलिस ने उसके साथियों को पकड़ा था, लेकिन टिंकू पुलिस को चकमा दिए था। एसटीएफ को मौके से असलहा और कारतूस मिले। उसके साथी की तलाश की जा रही है।

बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक डॉ. अरविन्द चतुर्वेदी ने बताया कि एसटीएफ की टीम से सूचना मिली थी कि एक लाख इनामी बदमाश टिंकू कपाला सतरिख थाना इलाके में मुठभेड़ के दौरान घायल हो गया है। सूचना पर बाराबंकी पुलिस के साथ मैं भी पहुंचा और अपराधी को अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

चतुर्वेदी ने बताया कि इस अपराधी पर हत्या और लूट के 27 मुकदमे दर्ज थे और इसकी आपराधिक गतिविधियां कई राज्यों में थी। 2019 में लखनऊ के कृष्णा नगर में आरके ज्वैलर्स के यहां हुई बड़ी लूट और हत्या का मुख्य आरोपी था। यह मूलतः लखनऊ के चौक इलाके का रहने वाला है और यह एक बाइक से अपने एक साथी के साथ यहां आया था। मौके से इसका साथी फरार हो गया है और उसे पकड़ने के लिए जनपद के 5 थानों की पुलिस को एसटीएफ के साथ लगाया गया है। जल्द उसकी भी गिरफ्तारी हो जाएगी।

गुजरात और महाराष्ट्र में थे मुकदमे

अधिकारियों के मुताबिक टिंकू कपाला उर्फ कमल किशोर उर्फ हेमंत कुमार उर्फ संजय उर्फ मामा बड़ी वारदात करके अंडरग्राउंड हो जाता था। उसने यूपी के अलावा गुजरात और महाराष्ट्र में भी डकैती और लूट की बड़ी वारदातें की। उसके खिलाफ गुजरात के वड़ोदरा और महाराष्ट्र के पुणे में भी कई मामले दर्ज थे।

Next Story
Share it
Top