Top
undefined

छेड़खानी को लेकर हुए दो पक्षों के बीच विवाद में जख्मी युवक की अस्पताल में हुई मौत

छेड़खानी को लेकर हुए दो पक्षों के बीच विवाद में जख्मी युवक की अस्पताल में हुई मौत
X

सुल्तानपुर। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में अपहरण के बाद किशोर की हत्या का मामला ठंडा भी नही पड़ा था कि सुल्तानपुर जिले में एक किशोर की हत्या कर दी गई। आरोप है कि 29 दिन पूर्व एक लड़की के साथ हुई छेड़खानी की घटना से जो आग सुलगी उसमे पुलिस लापरवाह बनी रही और अंत में किशोर उस आग का शिकार हो गया। फिलहाल पुलिस मामले में कार्रवाई की बात कह रही है।

पूरा मामला जिले के बल्दी राय थाना क्षेत्र अन्तर्गत चक शिवपुर गांव का है। ग्रामीणों के अनुसार 29 दिन पहले गांव की एक लड़की के साथ छेड़छाड़ की घटना घटित हुई। चौकी इंचार्ज पारा बाजार के पास मामला गया तो उन्होंने उचित कार्रवाई से परहेज किया। गत 24 जुलाई को दो पक्षो में इन्ही बातों को लेकर लाठी-डंडे चले, इसमें भी पुलिस ने एक पक्षीय कार्यवाई की। सोमवार को भी पीड़िता और उसने परिजन मृतक बब्बू उर्फ राममूरत (16) के खिलाफ कार्रवाई के लिए बल्दी राय थाने पर एफआईआर दर्ज कराने के लिए गए थे लेकिन पुलिस ने एक नही सुनी।

सोमवार शाम को दो पक्षों के बीच हुआ था पथराव

उधर पुलिस का कहना है कि बल्दी राय थाना क्षेत्र के चक शिवपुर गांव निवासी संजय पुत्र पुद्दन सोमवार की शाम पारा बाजार की तरफ से आ रहा था। गांव के बाहर कुछ लड़कों ने कमेंटबाजी की। उसी में वाद-विवाद शुरू हुआ था। इसके बाद दोनो ओर से पथराव हुआ। पथराव के दौरान बब्बू उर्फ राममूरत (16) पुत्र सूर्यभान भी वहां पहुंच गया था जिसके सिर पर एक ईंट आकर लग गयी। इससे वो बुरी तरह जख्मी हुआ। परिजन उसे इलाज के लिए सीएचसी बल्दीराय लेकर गए लेकिन हालत नाजुक देख डाक्टरों ने उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

परिजन जब उसे जिला अस्पताल लेकर आए तो यहां पहुंचकर उसकी स्थित चिंताजनक हो गई। आनन-फानन में प्रथम इलाज करके डाक्टरों ने किशोर को ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर कर दिया। परिवार वाले लखनऊ ले जाने की व्यवस्था कर ही रहे थे कि किशोर ने दम तोड़ दिया।

सूचना मिलने पर एसपी शिवहरि मीणा तत्काल जिला अस्पताल पहुंचे। उन्होंने परिजनों से मुलाकात कर पूरे हालात को जाना। एसपी ने परिजनों को धीरज बंधाया कि जल्द ही आरोपित गिरफ्तार किए जाएंगे। फिलहाल पुलिस ने किशोर के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

Next Story
Share it
Top