Top
undefined

मुख्यमंत्री योगी से मिले शहीद सब इंस्पेक्टर नेबूलाल के परिजन, राज्य सरकार की कार्रवाई पर संतोष जताया

मुख्यमंत्री योगी से मिले शहीद सब इंस्पेक्टर नेबूलाल के परिजन, राज्य सरकार की कार्रवाई पर संतोष जताया
X

लखनऊ। पिछले माह दो जुलाई की रात कानपुर शूटआउट में जान गंवाने वाले सब इंस्पेक्टर नेबूलाल के परिजनों ने रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लखनऊ में उनके आवास पर मुलाकात की। नेबूलाल के बेटे अरविंद कुमार ने कहा कि हम यहां मुख्यमंत्री के पास कुछ आवेदन देने आए हैं। हालांकि, उन्होंने क्या मांगें रखी हैं? इसका खुलासा नहीं किया। बीते दिनों सीएम योगी ने सीओ देवेंद्र मिश्र के परिजनों से भी मुलाकात की थी। परिजनों ने पुलिस की कार्रवाई पर संतोष जताया है।

पत्नी और बेटे ने सीएम से की मुलाकात

रविवार को सीएम योगी से मिलने के लिए सब इंस्पेक्टर नेबूलाल की पत्नी श्यामा देवी अपने बेटे अरविंद कुमार और एक अन्य रिश्तेदार के साथ लखनऊ पहुंची थीं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने परिवार को भरोसा दिलाया कि शूटआउट में शामिल किसी भी अपराधी को बख्शा नहीं जाएगा। इस घटना में शामिल ज्यादातर अपराधियों को सजा मिल गई है। इस पर परिवार वालों ने कहा कि वे राज्य सरकार की कार्रवाई से संतुष्ट हैं। जिन अपराधियों को अब तक सजा नहीं मिली है, उन्हें भी सजा जरूर मिलेगी। सीएम ने इस घटना में मृत पुलिसकर्मियों के परिवार को एक करोड़ मुआवजा और एक परिजन को नौकरी के साथ फुल पेंशन दिए जाने का ऐलान किया था।

क्या है कानपुर शूटआउट?

कानपुर के चौबेपुर थाना के बिकरु गांव में 2 जुलाई की रात गैंगस्टर विकास दुबे और उसकी गैंग ने 8 पुलिसवालों की हत्या कर दी थी। 9 जुलाई को उज्जैन के महाकाल मंदिर से विकास की गिरफ्तारी हुई। 10 जुलाई की सुबह कानपुर से 17 किमी पहले पुलिस ने विकास को एनकाउंटर में मार गिराया था। इस मामले में अब तक 8 आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं। विनय तिवारी व दरोगा केके शर्मा को मुखबिरी के आरोप में जेल भेजा जा चुका है। आईपीएस अनंत देव तिवारी को मुरादाबाद पीएसी में भेजा जा चुका है।

Next Story
Share it
Top