Top
undefined

अखिलेश का यूपी सरकार पर निशाना:पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा - भाजपा के राज में महिलाओं के साथ बच्चियों का उत्पीड़न भी चरम पर

अखिलेश का यूपी सरकार पर निशाना:पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा - भाजपा के राज में महिलाओं के साथ बच्चियों का उत्पीड़न भी चरम पर
X

कन्नौज। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने यूपी सरकार पर निशाना साधा है। अखिलेश ने कहा कि बीजेपी के राज में महिलाओं के साथ बच्चियों का भी उत्पीड़न चरम पर है।

भगवान परशुराम की मूर्ति लगवाने के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि सभी भगवान हमारे हैं। भगवान विष्णु, भगवान कृष्ण, भगवान राम और भगवान विष्णु के जितने भी अवतार हैं, सब हमारे हैं। इसमें बीजेपी को क्या तकलीफ है? अखिलेश ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर गुजरते समय कन्नौज में सपा कार्यकर्ताओं से मुलाकात की।

अखिलेश यादव ने स्वास्थ्य सेवाओं पर उठाया सवाल

अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी विधायक और आम जनता सब परेशान हैं। अस्पतालों में दवाई नहीं है। यदि मेडिकल कालेज सही तरह से चल जाता तो गरीबों को इलाज मिलता। उन्होंने कहा कि सरकार ने पैरामेडिकल और नर्सिंग हॉस्पिटल भी बंद कर दिए। यदि वे चालू होते तो कई बच्चों को ट्रेनिंग के बाद नौकरी मिलती। हर साल पांच सौ बच्चे निकलते और हजार बच्चों को नौकरी मिलती।

किसानों की जमीनें लेकर उद्योगपतियों को दे रही सरकार

अखिलेश ने कहा कि किसान चुप खड़े हैं। अगर उनके लिए मंडी बना दी जाती तो उनकी आय दोगुनी हो जाती। इसका लाभ किसानों को मिलता। उन्होंने आरोप लगया कि बीजेपी किसानों की जमीन हड़पना चाहती है। उन्होंने किसानों से कहा कि उनकी जमीनें लेकर बड़े-बड़े उद्योगपतियों को दे दी जाएगी।

सपाध्यक्ष ने कहा कि बहुत दुखद बात है कि बीजेपी सरकार में लगातार घटनाएं हो रही हैं। कभी नाबालिग बेटियों की साथ घटनाएं होती है तो कभी छात्राओं के साथ अपराध हो रहा है। महिलाएं भी असुरक्षित हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि लॉकडाउन के समय भी अपराधियों ने खुलेआम वारदात कीं।

अलीगढ़ मामले पर दिया अखिलेश ने बयान

अलीगढ़ मामले पर अखिलेश ने कहा कि सवाल अलीगढ़ के विधायक का नहीं है। सवाल है कि पुलिस ने विधायक को मारा, या विधायक ने पुलिस को मारा, ये कौन सिखा रहा है। मुख्यमंत्री अगर सदन में ठोकने की बात करेंगे तो जनता और पुलिस कभी नहीं समझ पाएगी कि किसे ठोकें।

Next Story
Share it
Top