Top
undefined

आप सांसद संजय सिंह ने योगी पर बोला हमला, कहा- "नो एफआईआर, नो क्राइम" के एजेंडे पर चल रही सरकार

आप सांसद संजय सिंह ने योगी पर बोला हमला, कहा- नो एफआईआर, नो क्राइम के एजेंडे पर चल रही सरकार
X

लखनऊ। आम आदमी पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि योगी ने मेरे द्वारा पूछे गए किसी सवाल का जवाब नहीं दिया बल्कि उत्तर प्रदेश की जनता को नमूना कह दिया। मुख्यमंत्री योगी जी अपने मन में अहंकार न पालिए। प्रदेश के लोगों के खिलाफ इतना गुस्सा मत रखिए। प्रदेश के लोगों के जीवन के बारे में सोचिए। संजय सिंह ने आरोप लगाया कि योगी सरकार "नो एफआईआर, नो क्राइम" के एजेंडे पर चल रही है।

आप नेता संजय सिंह ने रविवार को लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस करते हुए यह बातें कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश में ब्राह्मण, पाल, मौर्य, कुर्मी,यादव, लोध, निषाद, वाल्मीकि, जाटव, खटिक,पासी के अलावा अन्य जातियों के साथ अन्याय और अत्याचार हो रहा है। आज सारी जातियों के मन में सवाल क्यों आ रहा कि उत्तर प्रदेश में ठाकुरों की सरकार है। मेरे इन प्रश्नों का जवाब देने के बजाए योगी जी यूपी की जनता को "नमूना" कहने लगे।

दो दिन पहले की विवाहिता अब तक जेल में

योगी जी से मैं पूछता हूं कि 12वीं में पढ़ने वाले प्रभात मिश्रा की एनकाउंटर में हत्या क्यों हुई? 2 दिन की विवाहिता खुशी दुबे अभी तक जेल में क्यों बन्द है ? उसे बाहर निकाल के मेडिकल जांच करा के उसकी हालत से वाकिफ कराइये। महिला आयोग उससे संपर्क करे। लखीमपुर में दलित बेटी के साथ रेप हुआ। भदोही में महिला का किडनैप करके रेप किया गया। उसका मर्डर करके शरीर तेजाब से जला दिया गया। संजीत यादव का किडनैप और मर्डर क्यों? विक्रम जोशी की हत्या क्यों? योगी सरकार इन सारे सवालों के जवाब दे।

सिंह ने कहा कि योगी जी के पास इन सवालों का कोई जवाब नहीं है। ब्राह्मण, दलित,पिछड़ी जातियों का शोषण हो रहा है। थाने में उनकी सुनवाई नहीं होती। प्रदेश में गुंडाराज कायम है, लेकिन इन सबकी जिम्मेदारी लेने के बजाए योगी जी जनता को नमूना बताने में लगे हैं।

क्राइम और कोरोना ने प्रदेश का बेड़ा गर्क किया

उन्होंने कहा कि योगी राज में क्राइम के अलावा कोरोना ने भी प्रदेश का बेड़ा गर्क करने का काम किया है। यूपी के मुखिया ने ऐसी टीम 11 बनाई जिसमें एक भी डॉक्टर नहीं है,कोई एक्सपर्ट नहीं है, ये टीम कर क्या रही है किसी को जानकारी नहीं है। खिलवाड़ का आलम यह है कि प्रमुख सचिव एसपी गोयल मीटिंग में वीडियो गेम खेलते हैं। उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया जहां कोरोना के इलाज में घोर लापरवाही बरते जाने के कारण दो -दो कैबिनेट मंत्रियों की मौत हो गई।

लापरवाही की वजह से दो मंत्रियों की हुई मौत

संजय सिंह ने कहा कि इन दोनों मंत्रियों की मौत का कारण योगी सरकार की घोर लापरवाही है। आपराधिक लापरवाही है इसको लेकर अपने सहयोगियों से विचार-विमर्श कर योगी सरकार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने का काम करूंगा। राज्य में कोरोना मरीजों के साथ हो रहे दुर्व्यवहार की पोल एसएलसी सुनील साजन ने विधान परिषद में खोल दी। उन्होंने बताया कैसे कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान के साथ कोरोना अस्पताल में लापरवाही बरती गई जिसके चलते उनकी मौत हुई। जिस राज्य में मंत्रियों का ऐसा हाल है वहां आम आदमी केवल भगवान भरोसे है।

Next Story
Share it
Top