Top
undefined

खतरे के निशान के नजदीक पहुंचा गंगा का जलस्तर, बाढ़ की आशंका से प्रशासन ने जारी किया अलर्ट, गंगा किनारे इलाकों में शुरू हुई कटान

खतरे के निशान के नजदीक पहुंचा गंगा का जलस्तर, बाढ़ की आशंका से प्रशासन ने जारी किया अलर्ट, गंगा किनारे इलाकों में शुरू हुई कटान
X

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर में 2 दिन से लगातार हो रही बारिश के चलते गंगा का जलस्तर भी तेजी के साथ बढ़ने लगा है। गंगा किनारे बसे क्षेत्रों में मिट्टी की कटान भी हो रही है। प्रशासन ने गंगा के जलस्तर को बढ़ता देख हाई अलर्ट जारी कर दिया है। लोगों से सुरक्षित स्थान पर जाने के निर्देश भी दिए हैं। हालांकि अभी गंगा का जलस्तर चेतावनी बिंदु से 1.29 मीटर की दूरी पर है, लेकिन गंगा के बढ़ते जलस्तर को को देख कानपुर के बिठूर के आसपास गंगा किनारे बसे क्षेत्रीय लोग वह किसान की चिंता बढ़ गई है।

कानपुर में बिठूर में बनी ब्रह्मा व्रत पर लगी ब्रह्म खूंटी डूबने के बाद बिठूर व आसपास के क्षेत्रों के लोग बेहद चिंतित हैं। वहीं किसान गंगा के बढ़ते जलस्तर वह ब्रह्म खूंटी के डूबने से घबराए हुए हैं। किसानों की माने तो ब्रह्म खूंटी का डूबना शुभ संकेत नहीं है। जब जब ब्रह्म खूंटी डूबी है तब तब पानी ने विकराल रूप लेते हुए किसानों के साथ-साथ क्षेत्र में रहने वाले लोगों को बहुत नुकसान पहुंचाया। पानी धीरे-धीरे घाटों की और बढ़ रहा है और पक्के घाट काफी हद तक डूब चुके हैं।

गंगा किनारे कई इलाकों में घुसा पानी

वही गंगा किनारे बसे खोरा कटरी के दुर्गापुर, मक्का पुरवा, लक्ष्मण पुरवा आदि गांवों के अमरूद के बागों में भी पानी भरने लगा है। गंगा का जलस्तर बढ़ रहा है। जलस्तर बढ़ने के साथ ही गंगा किनारे बसे परिवारों का पलायन करने लगे हैं और कुछ तैयार कर रही है। शहर में घाटों की सीढियों तक जलस्तर पहुंच गया है।

जिला प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

कानपुर में गंगा के जलस्तर में लगातार हो रही बढ़ोतरी से बाढ़ की भी आशंका बढ़ गई है। उधर तेजी से बढ़ रहे गंगा के जलस्तर को देखते हुए जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी करते हुए सभी को सुरक्षित स्थान पर जाने के निर्देश भी दे दिए हैं। वहीं जलकल विभाग ने तेजी से बढ़ते जलस्तर को देख अपनी ड्रेजिंग मशीन किनारे बांधकर खड़ी कर दी है ताकि पिछले साल की तरह ड्रेजिंग मशीन बाढ़ में न फंस जाए। पिछले साल गंगा का जलस्तर बढ़ने पर मशीनें फंस गई थी। काफी मशक्कत के बाद उन्हें बाहर निकाला गया था।

Next Story
Share it
Top