Top
undefined

अखिलेश से मुलाकात कर बोले संजीत के परिजन, योगी जी बेटे का शव ही दिला दें

अखिलेश से मुलाकात कर बोले संजीत के परिजन, योगी जी बेटे का शव ही दिला दें
X

लखनऊ। कानपुर पुलिस अब तक संजीत यादव का शव नहीं ढूंढ पाई है। जिसके चलते परिवार बेहद परेशान है। ऐसे में संजीत के परिजनों ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की है। सपा अध्यक्ष ने संजीत के माता-पिता और बहन को न्याय दिलाने का भरोसा दिया है। सपा की तरफ से परिवार को 2 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी गई। अखिलेश ने कहा कि पार्टी पूरी तन्मयता के साथ न्याय दिलाने में मदद करेगी।

इस बारे में संजीत के पिता ने कहा कि जब तक मेरे बेटे की डेड बॉडी नहीं मिलती, तब तक हम हर चौखट पर न्याय मांगते रहेंगे। सीएम योगी से भी न्याय मांगते है। जिस हाल में हो मेरा बच्चा, मुझे वैसे ही चाहिए। मेरे बेटे के कातिलों को फांसी दी जाए।

ये है पूरा मामला?

कानपुर के बर्रा से 22 जून को लैब टेक्नीशियन संजीत यादव (28) का अपहरण फिरौती के लिए उसके दोस्त ने साथियों के साथ मिलकर किया था। 26 जून को उसकी हत्या कर लाश पांडु नदी में फेंक दी थी। इसके बाद पुलिस को चकमा देकर 13 जुलाई को 30 लाख की फिरौती भी वसूल ली थी।

पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए दोस्त कुलदीप, रामबाबू समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने बताया कि कुलदीप संजीत के साथ सैंपल कलेक्शन का काम करता था। उसने रतनलाल नगर में किराये पर कमरा ले रखा था। 22 जून की रात शराब पिलाने के बहाने वह संजीत को अपने कमरे में लाया था। इसके बाद उसे बंधक बना लिया था। चार दिन तक बेहोशी के इंजेक्शन देकर उसे बंधक बनाकर रखा था। इसके बाद 26 जून को कुलदीप ने अपने दोस्त रामबाबू और तीन अन्य के साथ मिलकर संजीत की हत्या कर दी थी। इसके बाद कुलदीप शव को अपनी कार में रखकर पांडु नदी में फेंक आया था।

Next Story
Share it
Top