Top
undefined

मेरठ में राम मंदिर के नाम पर फर्जीवाड़ा: श्रीराम तीर्थ ट्रस्ट बनाकर राम मंदिर निर्माण के लिए मांग रहे थे चंदा, विहिप की शिकायत पर पुलिस ने किया गिरफ्तार, केस दर्ज

मेरठ में राम मंदिर के नाम पर फर्जीवाड़ा: श्रीराम तीर्थ ट्रस्ट बनाकर राम मंदिर निर्माण के लिए मांग रहे थे चंदा, विहिप की शिकायत पर पुलिस ने किया गिरफ्तार, केस दर्ज
X

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ में श्रीराम तीर्थ ट्रस्ट बनाकर अयोध्या में मंदिर निर्माण के नाम पर चंदा वसूली कर ठगी का मामला सामने आया है। इसकी जानकारी मिलने पर विश्व हिन्दू परिषद(विहिप) के पदाधिकारी सक्रिय हो गए। विहिप की शिकायत पर पुलिस ने ट्रस्ट कार्यालय को बंद करा दिया है। ट्रस्ट के अध्यक्ष नरेन्द्र राणा को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है। इस बीच विहिप ने कहा है कि अयोध्या में मंदिर निर्माण के लिए कोई चंदा फिलहाल नहीं लिया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार विहिप कार्यकर्ताओं को सूचना मिली थी कि गढ़ रोड स्थित एक गांव में कुछ लोग मंदिर से एनाउंसमेंट कराकर अयोध्या मंदिर निर्माण के लिए चंदा इकटठा कर रहे हैं। सूचना मिलने पर विहिप के महानगर संयोजक अर्जुन राठी, महानगर मंत्री निमेष वशिष्ठ गांव पहुंचे और ग्रामीणों से बात की। ग्रामीणों ने बताया कि चंदा इकटठा करने वाले शनिवार को आने की बात कहकर गए हैं।

विहिप कार्यकर्ताओं ने दी पदाधिकारियों को सूचना

चंदा मांगने वालों के बारे में जानकारी मिलने पर विहिप कार्यकर्ता दिग्विजय सिंह तोमर ने इसकी सूचना संगठन के पदाधिकारियों को दी। जिस पर विहिप पदाधिकारियों ने बताया कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने चंदा देने के लिए अपना खाता संख्या जारी कर रखा है। जारी किये खाते के अलावा अन्य किसी भी खाते में निर्माण संबंधी चंदा या सहयोग राशि नहीं ली जा रही है। यदि कोई किसी अन्य ट्रस्ट और संस्था के माध्यम से चंदा वसूलता है तो वह गलत है। व्यक्तिगत तौर से कोई चंदा वसूल नहीं कर सकता।

श्रीराम तीर्थ ट्रस्ट के कार्यालय पहुंचे विहिप के कार्यकर्ता

विहिप कार्यकर्ता बाद में कथित श्रीराम तीर्थ ट्रस्ट के जागृति विहार स्थित कार्यालय पर पहुंचे। यहां विहिप कार्यकर्ताओं को ट्रस्ट का अध्यक्ष नरेंद्र राणा निवासी गांव कुरालसी, मुजफ्फरनगर मौजूद मिला। पूछने पर वह चंदा इकट्ठा करने के संबंध में सही जानकारी नहीं दे सका। जिस पर कार्यकर्ताओं ने पूरे मामले की जानकारी थाना मेडिकल थाना पुलिस को दी।

सूचना मिलने पर मेडिकल थाना पुलिस मौके पर पहुंची और ट्रस्ट के दफ्तर को बंद कराकर नरेंद्र को पूछताछ के लिए थाने पर ले आयी। बाद में विहिप कार्यकर्ताओं की लिखित शिकायत के आधार पर मेडिकल थाने में नरेंद्र राणा व अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया। पुलिस आरोपी नरेंद्र राणा को गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है।

Next Story
Share it
Top