Top
undefined

यूपी में चरम पर अपराध, रिटायर्ड अध्यापक कमलेश मिश्र की मंदिर में हत्या

यूपी में चरम पर अपराध, रिटायर्ड अध्यापक कमलेश मिश्र की मंदिर में हत्या
X

सीतापुर। उत्तर प्रदेश में अपराध कम हाेने का नाम ही नहीं ले रहा है। किसी दिन ऐसा नहीं है कि प्रदेश में किसी की हत्या न हाे। ऐसा ही एक मामला सीतापुर जिले से सामने आया है। यहां एक सेवानिवृत्त अध्यापक की मंदिर परिसर में धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी गयी।

पुलिस अधीक्षक आर पी सिंह ने शनिवार को बताया कि थाना महोली के सोनारण टोला में रहने वाले सेवानिवृत्त अध्यापक कमलेश चन्द्र मिश्र (68) शुक्रवार शाम को गांव के बाहर बने मंदिर में पूजा करने गए थे। रात्रि करीब 12 बजे तक वह वापस नहीं आए तो परिजनों ने खोजबीन शुरू की। वह मंदिर के पास गिरे मिले। उनके शरीर पर धारदार हथियार के निशान थे। उन्हें तत्काल अस्पताल ले जाया गया, लेकिन रास्ते में ही उन्होंने दम तोड़ दिया।

सिंह ने बताया कि परिजनों द्वारा दी गयी तहरीर के आधार पर मुकदमा पंजीकृत किया गया है। उन्होंने बताया कि अपर पुलिस अधीक्षक उत्तरी एवं क्षेत्राधिकारी सदर के नेतृत्व में चार टीमों का गठन कर मामले की जांच शुरू कर दी गयी है और अब तक की जांच से प्रथम दृष्टया यह पाया गया कि घटना के पीछे तंत्र-मंत्र एक कारण हो सकता है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि ऐसी जानकारी मिली है कि मुकेश शुक्ला नामक व्यक्ति तंत्र-मंत्र विद्या में मिश्रा का सहयोग करता था और उनसे इसकी शिक्षा भी ले रहा था।

अधिकारी ने बताया कि जांच में यह भी जानकारी मिली है कि शुक्ला के सौतेले भाई प्रवीण शुक्ला को इस बात की आशंका थी कि मुकेश तंत्र-मंत्र के द्वारा उनके या उनके परिवार को कोई क्षति पहुंचा सकता है। उन्होंने बताया कि इसकी जानकारी मिलने के बाद मुकेश तथा उसके भाई प्रवीण को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इस बीच, समाजवादी पार्टी ने राज्य की कानून व्यवस्था को लेकर सरकार पर हमला बोला है।

पार्टी ने शनिवार को ट्वीट में कहा, ''उत्तर प्रदेश में जंगलराज! सीतापुर में मंदिर में पूजा करने गए सेवानविृत्त शिक्षक कमलेश मिश्रा की चाकू से गोदकर निर्मम हत्या अत्यंत दु:खद! शोकाकुल परिजनों के प्रति संवेदना। हत्यारों को गिरफ्तार कर सख्त सजा दे सरकार। पीड़ित परिवार को मिले न्याय। सीएम और डीजीपी दें इस्तीफा।

Next Story
Share it
Top