Top
undefined

यमुना नदी में नहाते वक्त दो दोस्त डूबे, डेढ़ घंटे बाद शव मिले; घर से जॉगिंग के लिए निकले थे चार दोस्त

यमुना नदी में नहाते वक्त दो दोस्त डूबे, डेढ़ घंटे बाद शव मिले; घर से जॉगिंग के लिए निकले थे चार दोस्त
X

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश में प्रयागराज जिले के संगम तट के समीप अरैल पक्के घाट के सामने शनिवार को सुबह यमुना में नहा रहे दो युवक डूब गए। उनके साथियों ने शोर मचाया तो आसपास के लोग दौड़े। इसी बीच किसी ने पुलिस को खबर दी। मौके पर पहुंचे गोताखोरों और पुलिस की टीम ने करीब डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद दोनों की लाश निकालीं। मौके पर पहुंचे परिजन यह दृश्य देखकर अवाक रह गए।

जानकारी के अनुसार, जॉगिंग के बाद चारों लड़के अरैल पक्के घाट पर यमुना में नहाने लगे। इस दौरान रजनीश का पैर गहरे पानी चला गया और वह डूबने लगा। उसे डूबता देखकर सूरज बचाने पहुंचा तो वह भी डूबने लगा। उन दोनों को डूबता देख अनुराग और राज ने शोर मचाया तो आसपास के लोग दौड़े। पुलिस को खबर दी गई, तब तक दोनों डूब गए थे।

जल पुलिस और गोताखोरों ने दोनों को करीब डेढ़ घंटे में निकाल लिया। बचे दो दोस्तों के जरिए उनके घरवालों को खबर दी गई। परिवार के लोग बदहवास हालत में मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शव का पंचनामा करके पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया। वहीं, चौकी इंचार्ज अरैल एपी मिश्रा ने बताया कि चारों लड़के कार से जॉगिंग के लिए आए थे। साथ में पराठा-सब्जी भी लाए थे। ऐसा लग रहा है कि वो लोग नहाकर वहीं पिकनिक मनाने की तैयारी में थे, लेकिन उसके पहले हादसे का शिकार हो गए।

वहीं, परिजनों के मुताबिक, प्रतिदिन चारों दोस्त जॉगिंग के लिए जाते थे। इस दौरान रोज कोई न कोई अपने घर से नाश्ते के लिए कुछ न कुछ लेकर जाता था। आज भी वो चारों लोग गए थे। चारों लोग नहाने के बाद नाश्ता करते थे और फिर वापस लौट आते थे। लेकिन शनिवार को नहाते समय हादसा हो गया।

अरैल घाट पर आए दिन होते हैं दर्दनाक हादसे

नैनी के अरैल पक्के घाट पर आए दिन हादसे होते रहते हैं। करीब एक हफ्ते पहले मछली मारने गए नैनी सब्जी मंडी के दो लोग वहीं पर डूब गए थे। एक की तो अगले दिन लाश मिल गई थी लेकिन दूसरे व्यक्ति की लाश अभी तक नहीं मिली।

Next Story
Share it
Top