Top
undefined

एक माह तक गैंगरेप की रिपोर्ट लिखाने के लिए दौड़ती रही दलित छात्रा

एक माह तक गैंगरेप की रिपोर्ट लिखाने के लिए दौड़ती रही दलित छात्रा
X

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में बेटियां कितनी सुरक्षित हैं और उनके साथ इंसाफ किस कदर होता है? इसकी एक बानगी शुक्रवार को राजधानी लखनऊ में मिली। यहां एक छात्रा अपने साथ हुए रेप की शिकायत दर्ज कराने के लिए एक माह तक पुलिस अधिकारियों के पास जाती रही, अब हाथरस में हुए दुष्कर्म मामले के तूल पकड़ने के बाद उसका केस दर्ज किया गया। पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जांच की बात कही जा रही है।

ये घटना गुडंबा क्षेत्र की है। 11वीं की दलित छात्रा का आरोप है कि बीते 23 अगस्त को विपिन नामक युवक ने नौकरी लगवाने के नाम पर कागजात के साथ अपने घर बुलाया था। पीड़ित जब विपिन के घर पहुंची उसके अलावा शकील और तीन चार युवक पहले से घर में मौजूद थे। पीड़ित के अनुसार वहां पर उसके साथ बारी-बारी से सब ने रेप किया और एक हफ्ते तक बंधक बनाकर रेप करते रहे। पीड़ित ने तीन सितंबर को गुडंबा थाने में शिकायत की, लेकिन वहां भी कोई सुनवाई नहीं हुई।

डीसीपी नॉर्थ शालिनी श्रीवास्तव ने बताया कि पीड़ित ने मेरे दफ्तर में शिकायत दी थी, जिसमें तत्काल मुकदमा लिखा गया। दो आरोपियों को विपिन और शकील को गिरफ्तार कर लिया है। पूरे मामले की जांच की जा रही है।

Next Story
Share it
Top