Top
undefined

हाथरस गैंगरेप मामला: पीड़िता के घर में रिश्तेदार बनकर रह रही थी संदिग्ध महिला एक्टिविस्ट

हाथरस गैंगरेप मामला: पीड़िता के घर में रिश्तेदार बनकर रह रही थी संदिग्ध महिला एक्टिविस्ट
X

हाथरस। उत्तर प्रदेश के हाथरस में एक दलित महिला के साथ हुए कथित गैंगरेप मामले की जांच चल रही है। इस बीच जांच एजेंसियों के निशाने पर जबलपुर की एक महिला एक्टिविस्ट आ गई है। बताया जा रहा है कि वह 16 सितंबर से हाथरस पीड़िता के परिवार का हिस्सा बनकर रह रही थी। हालांकि फिलहाल पुलिस के अधिकारी इस मामले को लेकर कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है।

बताया जा रहा है कि कोविड महामारी के बहाने चेहरा ढककर परिवार की सदस्य बनकर कई न्यूज चैनलों को इंटरव्यू दिया था। इंटरव्यू में उसने कई भड़काऊ बातें कही थी, इतना ही नहीं गांव वालों को भी फर्जी अफवाहों से भड़काया था। पुलिस के जांच शुरू करते ही वह लापता हो गई। फिलहाल पुलिस उस एक्टिविस्ट की तलाश कर रही है।

हालांकि इस बारे में पीड़िता की भाभी ने बताया कि इस महिला का नाम राजकुमारी है। यह जबलपुर कि रहने वाली है। उसका एक बच्चा है। दूर की रिश्तेदार है। इस घटना के बाद से ही रिश्तेदार दूर दूर से आ रहे हैं वह भी आई थी। बाद में चली गई।

एसआईटी की जांच में महिला पर हुआ शक

सूत्रों के मुताबिक- एसआईटी जांच में सामने आया है कि 16 सितंबर से लेकर 22 सितंबर तक पीड़िता के घर में रहकर महिला एक्टिविस्ट बड़ी साजिश रच रही थी। महिला एक्टिविस्ट घूंघट ओढ़कर पुलिस और एसआईटी से बातचीत कर रही थी। घटना के 2 दिन बाद से ही संदिग्ध महिला एक्टिविस्ट पीड़िता के गांव पहुंच गई थी। आरोप है कि पीड़िता के ही घर में रहकर वह परिवार के लोगों को कथित रूप से भड़का रही थी।

Next Story
Share it
Top