Top
undefined

हाथरस केस की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज, चारों आरोपियों के परिवार वालों से पूछताछ संभव

हाथरस केस की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज, चारों आरोपियों के परिवार वालों से पूछताछ संभव
X

हाथरस। उत्तर प्रदेश के हाथरस में 19 साल की दलित युवती के साथ कथित गैंगरेप और उसकी मौत के मामले में आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी। दरअसल, SC ने बीते 6 अक्टूबर को सुनवाई के दौरान पीड़ित परिवार और गवाहों की सुरक्षा को लेकर चिंता जाहिर की थी। इस संबंध में बुधवार को यूपी सरकार ने कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया है। जिसमें परिवार और गवाहों की त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था करने के अलावा सीबीआई जांच का समय तय किया जाए, ताकि उस समयावधि में जांच पूरी हो जाए। यह भी मांग की है कि सीबीआई जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में की जाए।

पीड़ित परिवार की हरसंभव मदद कर रहे

सुप्रीम कोर्ट ने पिछली सुनवाई के दौरान पीड़ित परिवार और गवाहों की सुरक्षा, उनके पास वकील है या नहीं और इलाहाबाद हाईकोर्ट में स्टेट्स क्या है? इस पर हलफनामा दाखिल करने के लिए कहा था। बुधवार को यूपी सरकार ने हलफनामा दाखिल किया। सरकार ने कहा कि पीड़ित परिवार को तीन स्तरीय सुरक्षा दी गई है। घर में सीसीटीवी लगाए गए हैं। नाके पर और घर के बाहर पुलिस का पहरा है। इसके साथ इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में हुई सुनवाई का हवाला भी दिया। खास बात यह है कि यूपी सरकार ने कोर्ट से सीबीआई जांच को अपनी निगरानी में रखने की अपील की है।

पुलिसकर्मियों से पूछताछ करने में जुटी सीबीआई

हाथरस केस में सीबीआई जांच का पांचवां दिन है। सुबह जांच टीम के दो अफसर चंदपा कोतवाली पहुंचे। यहां पुलिसकर्मियों से पूछताछ चल रही है। आज जांच एजेंसी चारों आरोपियों के परिवार से पूछताछ कर सकती है। इसके अलावा अलीगढ़ और हाथरस के उन डॉक्टरों से भी पूछताछ कर सकती है, जिन्होंने जांच और इलाज किया था। सीबीआई ने बुधवार को पीड़ित के दोनों भाइयों और पिता से करीब 7 घंटे तक पूछताछ की। उसके बाद सीबीआई की टीम ने तीनों को घर छोड़ दिया।

पीड़ित के भाई ने बताया था कि केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के अधिकारियों ने हमसे घटना के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने हमसे अलग-अलग पूछताछ की। मैंने उन्हें जो कुछ भी पता था, वह सब बताया है।

इससे पहले मंगलवार को सीबीआई टीम घटनास्थल और अंतिम संस्कार वाली जगह पहुंची थी। इस दौरान फोरेंसिक एविडेंस भी जुटाए गए थे। सीबीआई अफसर विक्टिम के बड़े भाई को पूछताछ के लिए साथ ले गए थे। देर शाम उसे पुलिस सुरक्षा में घर भेज दिया था। परिवार के दूसरे सदस्यों से भी बातचीत की गई थी। इस टीम ने क्षेत्र के चंदपा थाने के पुलिसकर्मियों से भी पूछताछ की थी।

पीएफआई के चार सदस्यों को रिमांड पर ले सकती है ईडी

हाथरस की घटना की आड़ में यूपी में दंगा भड़काने की साजिश के मामले में ईडी को मथुरा जेल में बंद कट्टरपंथी संगठन पीएफआई के चारों सदस्यों से पूछताछ में अहम सुराग हाथ लगे हैं। ईडी स्थानीय सीजेएम की अनुमति के बाद जेल में बंद आरोपियों से पूछताछ कर रही है। सूत्रों के मुताबिक, टीम को पूछताछ में फंडिंग को लेकर अहम सुराग हाथ लगे हैं। लेकिन आरोपी जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। ऐसे में ईडी आरोपियों को रिमांड पर लेकर पूछताछ कर सकती है।

Next Story
Share it
Top