Top
undefined

महिलाओं की फरियाद सुनने के लिए अब यूपी के हर थाने में होगा महिला हेल्‍प डेस्‍क

महिलाओं की फरियाद सुनने के लिए अब यूपी के हर थाने में होगा महिला हेल्‍प डेस्‍क
X

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पुलिस थानों में जाने और अपनी शिकायत दर्ज कराने के लिए अब महिलाओं को संकोच नहीं करना होगा। महिलाएं थाने में अपनी बात खुल कर कह सकेंगी। इसके लिए हर थाने में बाकायदा एक महिला हेल्‍प डेस्‍क होगी। ऐसा माना जा रहा है कि पुलिस थानों में महिलाओं के जाने में हिचकने और अपनी बात कह पाने में संकोच करने को देखते हुए राज्‍य सरकार ने इस फैसले को तत्‍काल लागू करने के निर्देश जारी किए हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने समीक्षा बैठक में महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा सम्मान स्वावलंबी बनाने के लिए विशेष अभियान संचालित करने के साथ प्रदेश के सभी जिलों में महिला नोडल अफसरों की तैनाती की है। सीएम ने मिशन शक्ति अभियान के तहत 180 दिन तक चलाए जा रहे महिलाओं के लिए अभियान को नवरात्र में शुरुआत की जाएगी जिससे जागरूक किया जा सके।

बेहिचक अपनी बात महिला अफसरों से शेयर कर सकेंगी महिलाएं

महिलाओं की सुरक्षा को लेकर लगातार कदम उठा रही योगी सरकार ने गुरुवार को ये फैसला किया है। 17 अक्‍टूबर से यूपी में महिलाओं के लिए मिशन शक्ति अभियान का ऐलान कर चुके मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के इस कदम को महिला सुरक्षा की मुहिम से जोड़ कर देखा जा रहा है।

हेल्प डेस्क पर होगी महिला पुलिसकर्मियों की तैनाती

थानों में बनाई जाने वाली हेल्‍प डेस्‍क पर महिला पुलिस कर्मियों की तैनाती की जाएगी। हेल्‍प डेस्‍क पर तैनात महिला पुलिस कर्मी शिकायतों को सुनने के साथ ही किसी भी वक्‍त महिलाओं की मदद के लिए भी तैयार रहेंगी। योगी सरकार इससे पहले राजधानी के अलग अलग चौराहों पर महिलाओं के लिए पिंक बूथ भी बनाए हैं।

कार्य स्‍थल से देर रात लौटने वाली महिलाओं को घर तक पहुंचाने की व्‍यवस्‍था भी योगी सरकार ने की है। महिला सुरक्षा पर योगी सरकार की गंभीरता का नतीजा है कि राजधानी समेत यूपी के बड़े शहरों के चौराहों पर भी महिला पुलिस कर्मियों की तैनाती अनिवार्य रूप से की जा रही है। वीमेन पावर लाइन 1090 और 112 के साथ मिलकर पीड़ितों की शिकायत के निस्तारण के लिए योजना तैयार की गई है।

सभी जिलों में महिला नोडल अफसरों की तैनाती

प्रदेश के 75 जिलों के विभिन्न जनपदों में तैनात महिला अफसरों को उस जिले का नोडल प्रभारी तैनात किया गया है। जिले में तैनात मंडलायुक्त, जिलाधिकारी,मुख्य विकास अधिकारी, एसपी-एसएसपी में जो भी महिला अफसर है,उसे महिला अपराध की समीक्षा और मिशन शक्ति अभियान का नोडल अफसर तैनात किया गया है। वह महिलाओं के अपराध के रोकने और महिलाओं को जागरूक करने के लिए अभियान का नेतृत्व करेंगी।

लखनऊ और नोएडा ने एडीजी और आईएएस अफसर नोडल प्रभारी लखनऊ में एडीजी स्तर की महिला अफ़सर रेणुका मिश्रा को नोडल अफसर बनाया गया है। उनके साथ ही दो डीआईजी,आईजी स्तर के अफसरों को टीम में शामिल किया गया है। इसी तरह गौतमबुद्ध नगर में सीडीओ नोएडा ऋतु महेश्वरी और एसपी अपराध सुपर्णा गांगुली को नोडल अफसर तैनात किया गया है। इसके अलावा प्रदेश के अन्य जिलों में तैनात महिला अफसरों को नोडल अफसर नियुक्त किया गया है।

Next Story
Share it
Top