Top
undefined

लव जिहाद का मामला: हिंदूवादी संगठन के पदाधिकारियों ने थाने काे घेरा, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

लव जिहाद का मामला: हिंदूवादी संगठन के पदाधिकारियों ने थाने काे घेरा, पुलिस ने किया लाठीचार्ज
X

बरेली। उत्तर प्रदेश के बरेली में कथित लव जेहाद के मामले को लेकर हिंदू वादी संगठन के पदाधिकारियों ने मंगलवार को किला थाने पहुंचकर जमकर हंगामा किया। पुलिस अधिकारियों ने मामले में कार्रवाई का आश्वासन दिया, लेकिन लोग युवती की बरामदगी पर अड़े रहे। आरोप है कि इस दौरान नारेबाजी करते हुए लोगों ने तोड़फोड़ शुरू कर दी। पुलिस ने हालात पर काबू पाने के लिए लाठीचार्ज किया है। इससे तमाम लोग घायल हुए हैं। भीड़ तितर बितर हो गई है। लेकिन संगठनों के पदाधिकारी अभी भी थाने पर डटे हैं। तनाव की आशंका को देखते हुए फोर्स बढ़ा दी गई है।

सामने आया था युवती का वीडियो

दरअसल, शहर के प्रेमनगर थाना क्षेत्र की रहने वाली एक लड़की का सोमवार को वीडियो सामने आया था। जिसमें लड़की ने अपने माता-पिता को संबोधित करते हुए कहा था कि वह बालिग है और अपनी मर्जी से दूसरे धर्म के लड़के बिलाल से शादी कर चुकी है। हालांकि बिलाल वीडियो में नहीं दिखाई देर रहा था। लड़की ने यह भी कहा कि प्रेमी बिलाल व उसके घर वालों पर कोई कार्रवाई न की जाए। उसने एसएसपी से सुरक्षा भी मांगी थी।

वहीं, लड़की के घर से गायब होने के बाद परिवार वालों ने धारा 366 के तहत मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस दोनों की तलाश में जुटी है। लेकिन विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने इसे लव जिहाद का प्रकरण बताते हुए मंगलवार को किला थाने का घेराव कर लिया। पुलिस के आलाधिकारियों ने मामले में कार्रवाई जारी होने का हवाला दिया। लोग युवती की तत्काल बरामदगी की बात पर डटे रहे। मामले को बिगड़ता देख पुलिस ने भीड़ को नियंत्रित करने के लिए लाठी चार्ज किया और प्रदर्शनकारियों को थाने से बाहर निकाला। फिलहाल प्रदर्शनकारी थाने में जुटे हुए हैं और आरोपी युवक की गिरफ्तारी के साथ युवती की बरामदगी की मांग कर रहे हैं।

17 अक्टूबर को लिखा गया मुकदमा

एसपी सिटी रविंद्र कुमार ने बताया कि 17 अक्टूबर को थाने पर तहरीर आई थी। उस दिन केस दर्ज किया गया था। पुलिस की चार टीमें सर्विलांस की मदद लेते हुए आरोपी की गिरफ्तारी व युवती की बरामदगी के लिए प्रयासरत हैं। इसी बीच युवती का वीडियो वायरल हुआ है। जिसमें युवती अपने बालिग को बताते हुए प्रमाण के तौर पर आधार कार्ड भी दिखा रही है। लेकिन हम युवती की बरामदगी के लिए प्रयास कर रहे हैं। इसके बाद उसे न्यायालय में पेश करेंगे। न्यायालय जैसा आदेश करेगा, वैसा हम कार्रवाई करेंगे।

Next Story
Share it
Top