Top
undefined

पुलिस भर्ती प्रक्रिया 2018 के सॉल्वर गैंग का सरगना बिहार से गिरफ्तार, उगले हैं कई राज

पुलिस भर्ती प्रक्रिया 2018 के सॉल्वर गैंग का सरगना बिहार से गिरफ्तार, उगले हैं कई राज
X

वाराणसी. उत्तर प्रदेश में वाराणासी की कैंट पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने आरक्षी पुलिस भर्ती प्रक्रिया 2018 में साल्वर गैंग का लीडर राजेश महतो उर्फ रजनीश को गिरफ्तार कर लिया है। कैंट पुलिस ने मंगलवार को मीडिया के सामने पेश किया। आरोप है कि यूपी आरक्षी परीक्षा में आवेदकों को पटना समेत अन्य जगहों से 50 हजार रुपए में सॉल्वर उपलब्ध कराया था। राजेश का नाम पकड़े गए तमाम आवेदकों ने पिछले दिनों पूछताछ में खोला था।

बिहार में नालंदा जिले से पकड़ा गया था आरोपी

क्षेत्राधिकारी कैंट मोहम्मद मुश्ताक के निर्देशन में कैंट थाना प्रभारी राकेश सिंह, चौकी प्रभारी नदेसर अशोक कुमार, मो.शाबान, जय प्रकाश सिंह और रामानंद यादव की टीम ने बिहार के नालंदा से गिरफ्तार किया है। सीओ मोहम्मद मुश्ताक ने बताया कि इसके मोबाइल से लोगों से बातचीत की रिकार्डिंग भी मिली है। राजेश 30 हजार रुपए सॉल्वरों को देता था और 20 हजार रुपए खुद रखकर पूरी सेटिंग करता था। बिहार के नालंदा जिले के लाहेरी थाना क्षेत्र के रामचंद्रपुर से इसकी गिरफ्तारी हुई है।

पूछताछ के दौरान इसके गैंग के कई बड़े नाम सामने आए हैं। उनकी भी जल्द गिरफ्तारी की जाएगी। दिसंबर 2019 में पास अभ्यर्थियों का बायोमैट्रिक वेरिफिकेशन वाराणासी पुलिस लाइन में चल रहा था। उसी भर्ती पता चला कि कई अभ्यर्थी सॉल्वर गैंग से जुड़कर परीक्षा पास कर यहां तक आए हैं। आज़मगढ़ के एक अभ्यर्थी पर शक होने पर जांच की गई तो पूरा मामला सामने आया था। पूरी डील दो लाख रुपए से ज्यादा रकम में कई गई थी।

Next Story
Share it
Top