Top
undefined

खातों में रिफंड होगी जमा धनराशि, उत्तर प्रदेश के 27,500 लोग नहीं कर पाएंगे हज यात्रा

खातों में रिफंड होगी जमा धनराशि, उत्तर प्रदेश के 27,500 लोग नहीं कर पाएंगे हज यात्रा
X

लखनऊ. दुनिया में कोरोनावायरस महामारी का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। इसका असर इस बार हज-2020 के सफर पर भी पड़ा है। सऊदी अरब सरकार ने केवल अपने ही देश के लोगों को हज कराने का फैसला लिया है।इसके बाद भारत सहित पूरी दुनिया से लोग हज के लिए नहीं जा पाएंगे। ऐसे में उत्तर प्रदेश के भी 27,500 लोग इस बार हज नहीं कर पाएंगे। यूपी हज कमेटी ने बताया- हज करने जाने वालों का पूरा पैसा रिफंड किया जाएगा। दैनिक भास्कर ने यूपी हज कमेटी के सचिव राहुल श्रीवास्तव और हज सेवा समिति के महासचिव आलम मुस्तफा याकूबी से बात की। उन्होंने बताया- किस तरह रिफंड मिलेगा...

प्रश्न: उत्तर प्रदेश से इस साल (2020) कितनी संख्या में रजिस्ट्रेशन हज जाने के लिए हुए थे?

सचिव (राहुल): 27,500 रजिस्ट्रेशन उत्तर प्रदेश से इस बार हुए थे। हालांकि, उत्तर प्रदेश से 28,540 कुल यात्रियों का कोटा तय है।

प्रश्न: रजिस्ट्रेशन की क्या प्रक्रिया अपनाई गई थी, कितने स्टेप में रजिस्ट्रेशन होता है?

सचिव (राहुल): हज कमेटी ऑफ इंडिया की वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन कराया जाता है। इसमें सबसे पहले पासपोर्ट और आवदेनकर्ता की डिटेल और मेडिकल सर्टिफिकेट लगता है। यह पूरी प्रक्रिया तीन स्टेप में होती है।

प्रश्न: प्रत्येक हज यात्रियों से कितना रुपए जमा किया गया था, कुल कितना हुआ है?

मुस्तफा आलम याक़ूबी: इस बार तीन स्टेप में रुपए जमा किए गए थे। पहली किस्त में 81,000। दूसरी किस्त में एक लाख 20 हजार रुपए और तीसरी किस्त विदेश मंत्रालय के द्वारा तय होती है। कोरोना की वजह से इस बार वह किस्त सऊदी अरब से नहीं तय की जा सकी है। अभी तक एक हज यात्री ने दो लाख एक हजार रुपए जमा किया है।

प्रश्न: अब क्या सरकार हज यात्रियों द्वारा जमा रुपए लौटाएगी, यदि हां तो उसकी प्रक्रिया क्या होगी?

मुस्तफा आलम याक़ूबी: हज कमेटी ऑफ इंडिया ने 5 जून को एक सर्कुलर जारी किया था, जिसमें हिंदुस्तान से जाने वाले हज यात्रियों को यह बताया गया था जो रजिस्ट्रेशन कराने वाले यात्री कोरोना महामारी की वजह से हज नहीं जाना चाहते हैं वह अपनी धनराशि वापस ले सकते हैं। उनकी कोई भी राशि काटी नहीं जाएगी। सऊदी हज मंत्रालय ने कल (सोमवार) रात ट्वीट करके यह सूचना दी कि इस साल अंतरराष्ट्रीय हज यात्रा रद्द कर दी गई है। अपनी जमा की हुई राशि वापस उनके बैंक खाते में लौटा दी जाएगी।

हज कमेटी ऑफ इंडिया के मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने यह साफ कर दिया था अगले साल हज के फॉर्म दोबारा भरना होगा। इस वर्ष वाली जमा धनराशि वापस होगी। उसको अगले साल के लिए जमा नहीं रखा जाएगा। रुपए वापस करने की हज कमेटी ऑफ इंडिया एक से दो दिनों में एक सर्कुलर जारी कर सूचना देगी कब तक रुपए यात्रियों के खाते में वापस होंगे।

Next Story
Share it
Top