Top
undefined

5 माह बाद आज से बीएचयू की सभी ओपीडी सेवाएं शुरू, केवल ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन मान्य

5 माह बाद आज से बीएचयू की सभी ओपीडी सेवाएं शुरू, केवल ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन मान्य
X

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के वाराणसी में स्थित बीएचयू के सर सुंदरलाल अस्पताल, ट्रामा सेंटर और दंत चिकित्सा संकाय में आज से ओपीडी शुरू होने जा रही है। कोरोनावायरस महामारी के चलते मार्च माह में यहां ओपीडी सेवाएं स्थगित कर दी गई थी। इससे यूपी के पूर्वांचल, बिहार, झारखंड, बंगाल और एमपी के मरीजों को राहत मिलेगी। अभी महज 50 मरीजों का इलाज होगा। 25 मरीजों का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और 25 की बुकिंग टेली मेडिसिन से होनी है। तय किया गया है कि, बीएचयू के स्टॉफ (शैक्षणिक/गैर शैक्षणिक), छात्र एवं पेंशनभोगी को भी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा।

बता दें कि, अगस्त 2018 में बीएचयू को एम्स का दर्जा मिला था। इसके बाद इसका सालाना बजट 198 करोड़ से बढ़कर 2000 करोड़ हो गया है। पीआरओ राजेश सिंह ने बताया चिकित्सा विज्ञान संस्थान, काशी हिंदू विश्वविद्यालय द्वारा इस संबंध में कुछ दिशानिर्देश भी जारी किए गए हैं। एक दिन में केवल एक विभाग में 50 मरीज देखे जाएंगे।

मरीज व उनके साथ आए तीमारदार को मास्क लगाना अनिवार्य होगा।

दो गज की शारीरिक दूरी के नियम का पालन अनिवार्य होगा।

बीएचयू के स्टाफ (शैक्षणिक/गैर शैक्षणिक), छात्र एवं पेंशनभोगी को भी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा।

एक मरीज के साथ केवल एक ही सहयोगी/साथी रहेगा।

गंभीर मरीजों का केवल आपातकालीन ओपीडी में ही उपचार होगा।

आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड के द्वारा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की सुविधा प्राप्त की जा सकती है।

आईएमएस-एसएसएच बीएचयू की वेबसाइट पर ओपीडी शेड्यूल की सुविधा उपलब्ध है।

बीएचयू वेबसाइट (www.bhu.ac.in) पर जाकर IMS-SSH पर http://dexpertsystems.com/bhu पर बुकिंग की जा सकती है।

अगले सप्ताह से प्ले स्टोर से एसएसएच ऐप डाउनलोड कर भी बुकिंग की जा सकती है।

बीएचयू ने सहयोग की अपील की

चिकित्सा विज्ञान संस्थान, बीएचयू प्रशासन ने जन साधारण से अपील की है कि दिशानिर्देशों का पालन करें व कोरोना को पराजित करने में सहयोग करें। गंभीर मरीजों को केवल इमरजेंसी में ही देखा जाएगा। यहां एक दिन में तीन हजार से ज्यादा मरीज दिखाने पहुंचते थे।

Next Story
Share it
Top