Top
undefined

8 साल की बालिका का अपहरण कर हत्या, शव जलाने के बाद राख के ढेर पर चारपाई डालकर नग्नावस्था में लेटा था आराेपी

8 साल की बालिका का अपहरण कर हत्या, शव जलाने के बाद राख के ढेर पर चारपाई डालकर नग्नावस्था में लेटा था आराेपी
X

हमीरपुर. उत्तर प्रदेश में हमीरपुर जिले के मौदहा कोतवाली क्षेत्र में एक सनकी शख्स ने तंत्र-मंत्र के चक्कर में 8 साल की बच्ची का अपहरण करके उसकी हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी ने शव को जला दिया और उसके राख के ढेर पर चारपाई डालकर नग्नावस्था में लेट गया। आसपास रहने वालों को जब शव जलने की दुर्गंध आई तो पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस सूत्रों की मानें तो आरोपी ने अपना जुर्म कबूल लिया है।

पूछताछ में आरोपी ने बताया है कि उसने बच्ची का अपहरण करने के बाद उसके साथ ज्यादती की। फिर गला दबाकर हत्या कर दी। पुलिस ने मौके से हड्डियों के छोटे-छोटे टुकड़े, सिंदूर और तंत्र-मंत्र में इस्तेमाल होने वाली अन्य चीजें बरामद की हैं। सूत्रों का कहना है कि पुलिस जल्द ही इस घटनाक्रम का खुलासा करेगी।

गुरुवार रात हुआ था अपहरण

मौदहा कस्बे के रागौल मोहल्ला निवासी विक्रम की 8 साल की बेटी पूनम गुरुवार रात 11 बजे खाने के बाद घर के बाहर बैलगाड़ी के नीचे सो गई। देर रात करीब दो बजे उसे कुछ लोग चादर में लपेटकर उठा ले गए। पूनम की मां ने बताया कि रात 11 बजे बेटी को पानी पिलाया था, फिर चादर ओढ़ाकर सुला दिया था और खुद भी सो गई। रात तीन बजे जब आंख खुली तो बेटी मय चादर के लापता थी।

पुलिस ने गुमशुदगी में मामला दर्ज किया था

परिजन ने बेटी की काफी खोजबीन की। लेकिन, जानकारी नहीं मिल सकी। मौदहा कोतवाली पहुंचकर पिता ने अपहरण का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। पुलिस ने मामला गुमशुदगी में दर्ज किया। इसके बाद पुलिस और परिजन बच्ची की तलाश में जुट गए। शुक्रवार रात घटनास्थल से 200 कदम की दूरी पर लोगों को शव जलने की दुर्गंध आई।

आसपास वालों को शव जलने का एहसास हुआ

लोगों ने अनहोनी की आशंका जताते हुए पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर छापेमारी की तो संतोष नाम के शख्स के यहां सुरंगनुमा घर के एक कमरे में राख का ढेर देखा गया। जिस पर चारपाई डालकर संतोष नग्नावस्था में लेटा था। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ की जा रही है। डॉग स्क्वॉयड और फॉरेंसिंक टीम ने साक्ष्य जुटाए हैं। हालांकि, इस बारे में अभी पुलिस वालों ने पीड़ित परिजनों को जानकारी नहीं दी है। परिजन बच्ची की बरादमगी की मांग कर रहे हैं।

Next Story
Share it
Top