Top
undefined

सामने आई लापरवाही, बिना ग्लब्स-मास्क के वैक्सीन बॉक्स लेकर अस्पताल पहुंचा कर्मचारी

सामने आई लापरवाही, बिना ग्लब्स-मास्क के वैक्सीन बॉक्स लेकर अस्पताल पहुंचा कर्मचारी
X

वाराणसी। वाराणसी में कोरोना वैक्सीन के ट्रायल को लेकर एक बार फिर लारपवाही सामने आई है। बीएचयू अस्पताल में एक कर्मचारी बिना ग्लब्स और मास्क के वैक्सीन लेकर पहुंचा। कुछ दिन पहले भी एक कर्मचारी वैक्सीन बॉक्स लेकर साइकिल से पहुंचा था।

वाराणसी में कोरोना टीकाकरण को लेकर फुलप्रूफ व्यवस्था की गई है। टीका लगाने का काम शुरू होने में बस पांच दिन का समय शेष है, ऐसे में केंद्रों के साथ ही अस्पतालों को भी अलर्ट किया गया है। कोरोना जांच की तरह ही टीकाकरण अभियान की भी सिटी कमांड कंट्रोल सेंटर सिगरा से निगरानी की जाएगी।

टीकाकरण 16 जनवरी से शुरू होने पर पहले चरण में 18 हजार स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जाना है, दूसरे में सरकारी कर्मचारियों और तीसरे चरण में जन सामान्य को लगाए जाने वाले टीके की तैयारियां भी जोर शोर से शुरू हो गई है। टीका लगने के बाद इसके दुष्प्रभाव से निपटने पर एक विशेष टीम का गठन किया गया है।

लापरवाही पर फिर उठे सवाल

वहीं, लापरवाही ने एक बार फिर प्रशासन की व्यवस्था पर सवाल उठा दिए हैं। बिना ग्लब्स-मास्क के वैक्सीन लेकर पहुंचने पर लारपवाही सामने आई है। 5 जनवरी को भी कोरोना वैक्सीन का ट्रायल किया जा रहा था, जहां पर 25-25 लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया।

जिला महिला अस्पताल कबीरचौरा में एक कर्मचारी साइकिल से वैक्सीन बॉक्स को लेकर अस्पताल पहुंचा था। सीएमओ को जब इसकी जानकारी हुई तो अस्पताल प्रशासन से इसके बारे में जवाब मांगा।

पहले दिखाएंगे वीडियो तब लगाएंगे टीका

स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना टीकाकरण के प्रति जागरूकता के लिए एक वीडियो भी तैयार कराया है, इसमें टीके को लगाए जाने और उसके पहले व दूसरे डोज के बारे में जानकारी देने के साथ ही टीकाकरण के प्रभाव के बारे में भी बताया गया है। लाभार्थी को पहले इसका वीडियो भी दिखाया जाएगा।

यह भी जानना जरूरी

कोविन पोर्टल पर दर्ज सूची का टीकाकरण केंद्र पर मिलान किया जाएगा।

केंद्र पर पहुंचने के बाद स्वास्थ विभाग की टीम टीकाकरण की जानकारी देगी।

काउंसलिंग के बाद ही वैक्सीन लगाई जाएगी।

टीका लगवाने वालों को एक फार्म दिया जाएगा जिस पर डॉक्टर, कंट्रोल रूम का नंबर रहेगा।

टीका लगने के बाद सतर्कता सावधानियों के बारे में भी जागरूक किया जाएगा।

Next Story
Share it