Top
undefined

Kanpur encounter case: हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के साथी अमर दुबे को यूपी एसटीएफ ने हमीरपुर में किया ढेर

Kanpur encounter case: हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के साथी अमर दुबे को यूपी एसटीएफ ने हमीरपुर में किया ढेर
X

कानपुर इनकाउंटर केस का अपराधी गैंगस्टर विकास दुबे का करीबी सहयोगी अमर दुबे हमीरपुर में मारा गया। उसे उत्तरप्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स ने बुधवार (8 July 2020) सुबह हमीरपुर में मार गिराया। कानपुर देहात में विकास दुबे के गांव बिकरू में दो व तीन जुलाई की मध्य रात्रि आठ पुलिस कर्मियों की हत्या किए जाने के बाद यूपी पुलिस विकास व उसके सहयोगियों की तलाश कर रही है।

पुलिस के अनुसार, अमर दुबे कानपुर देहात के बिकरू गांव में पुलिस पर गोलियां दागने के वक्त उसके साथ मौजूद था। उसे विकास दुबे का दायां हाथ बताया जाता था। अमर दुबे पर भी इस घटना के बाद पुलिस ने 25 हजार का ईनाम घोषित किया था।



इस घटना के बाद अमर दुबे विकास दुबे का तीसरा सहयोगी है जिसे पुलिस ने मार गिराया है। इससे पहले उसके एक मामा व चचेरे भाई को पुलिस ने मार गिराया था, वहीं एक सहयोगी को जिंदा पकड़ा था, जिससे पुलिस ने अबतक कई राज उगलवाये हैं। अमर दुबे हमीरपुर के मौदहा इलाके में किसी रिश्तेदार के घर पनाह लेने के लिए आया था और इससे पहले हरियाणा के फरीदाबाद में छिपा था।

एसटीएफ टीम को उसके मूवमेंट की जानकारी मिल गई थी और उसे घेर का सरेंडर करने को कहा, लेकिन उसने भागने की नाकमयाब कोशिश की और पुलिस पर गोलियां दागी जिसके बाद जवाबी कार्रवाई में वहा मारा गया। अमर दुबे के हरियाणा व पश्चिम यूपी में छिपे होने से यह संदेह भी गहराया है विकास दुबे भी इसी इलाके में हो सकता है। इसलिए एसटीएफ की टीम अदालत पर भी नजर रख रही है, जहां वह सरेंडर करने के लिए जा सकता है।

Next Story
Share it
Top