Top
undefined

ये समय योद्धाओं के साथ अन्याय करने का नहीं है, बल्कि उनकी बात सुनने का है : प्रियंका गांधी

'ग्लव्स-मास्क मांगने पर मेडिकल स्टाफ टर्मिनेट', प्रियंका ने योगी सरकार को घेरा है. प्रियंका गांधी ने ट्वीट करके कहा है कि इस समय हमारे मेडिकल स्टाफ को सबसे ज्यादा सहयोग करने की जरूरत है. वे जीवनदाता हैं और योद्धा की तरह मैदान में हैं.

ये समय योद्धाओं के साथ अन्याय करने का नहीं है, बल्कि उनकी बात सुनने का है : प्रियंका गांधी
X

नई दिल्ली। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी की योगी सरकार पर हमला बोला है. प्रियंका ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर करते हुए योगी सरकार को आड़े हाथों लिया. इस वीडियो में बांदा जिले के राज्यकीय मेडिकल कॉलेज की स्टाफ सुविधा और सैलरी को लेकर योगी सरकार पर सवाल खड़े किए हैं.

प्रियंका गांधी ने ट्वीट करके लिखा, 'इस समय हमारे मेडिकल स्टाफ को सबसे ज्यादा सहयोग करने की जरूरत है. वे जीवनदाता हैं और योद्धा की तरह मैदान में हैं. बांदा में नर्सों और मेडिकल स्टाफ को उनकी निजी सुरक्षा के उपकरण न देकर और उनके वेतन काट करके बहुत बड़ा अन्याय किया जा रहा है.'

प्रियंका ने आगे लिखा कि मैं यूपी सरकार से अपील करती हूं कि ये समय इन योद्धाओं के साथ अन्याय करने का नहीं है, बल्कि उनकी बात सुनने का है.

मनरेगा मजदूरों के भुगतान की उठाई मांग

इससे पहले प्रियंका गांधी ने मनरेगा मजदूरों को 21 दिन का अग्रिम भुगतान देने की मांग की थी. प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा था कि मनरेगा के तहत मिलने वाला रोजाना का मेहनताना इस समय ग्रामीण मजदूरों की जिंदगी में राहत ला सकता है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री से अपील की है कि ग्रामीण मजदूरों को 21 दिन का अग्रिम भुगतान दिया जाए ताकि उनको इस संकट के समय कष्ट न सहने पड़ें.

प्रियंका गांधी वाड्रा ने शुक्रवार को धार्मिक संस्थानों, मठों, आश्रमों, इदारों के नाम एक अपील पत्र लिखा. उन्होंने यूपी की सभी सेवा करने वाली संस्थाओं से अपील की है कि आपको जहां भी हमारे कांग्रेस के सिपाहियों की जरूरत पड़े तो वो अपाको मदद करेंगे.

Next Story
Share it
Top