Top
undefined

कांग्रेस नेताओं के बिगड़े बोल कमलनाथ ने इमरती देवी को बताया,आइटम तो अजय सिंह ने कहा-3 को बनेगी जलेबी

शिवराज ने नवरात्रि में महिला के अपमान को बताया शर्मनाक,आज देंगे मौन व्रत धरना

स्वदेश ब्यूरो,भोपाल। मौजूदा उपचुनाव पहली बार 28 सीटों के लिए होने के साथ ही कांग्रेस नेताओं के बिगड़े बोल के लिए भी जाना जाएगा। छुटभैया ही नहीं बड़े कद के नेता भी अपने भाषणों में घटिया स्तर की व्यक्तिगत टीका-टिप्पणी से नहीं चूक रहे हैं। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ ने रविवार को महिला मंत्री एवं डबरा से भाजपा प्रत्याशी इमरती देवी के लिए 'आइटम' शब्द का इस्तेमाल किया। वहीं पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने एक अन्य सभा में कहा,कि तीन नवंबर को जनता इमरती की जलेबी बना देगी। कांग्रेस नेताओं के इन बिगड़े बोल की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं अन्य भाजपा नेताओं ने कड़ी निंदा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान महिला मंत्री के अपमान के विरोध में कल राजधानी में दो घंटे का मौन व्रत धरना देंगे।

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष श्री नाथ रविवार को डबरा में अपने पार्टी के प्रत्याशी सुरेश राजे के समर्थन में सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने राजे की तारीफ करते हुए कहा,कि ये तो सीधे सादे हैं। ये वैसे नहीं हैं,लेकिन उनका नाम क्यूं लूं। इस पर भीड़ में से एक कार्यकर्ता ने इमरती देवी का नाम लिया तो कमलनाथ ने कहा,कि आप लोग तो ज्यादा जानते हैं। मुझे पहले ही सचेत कर दिया होता,कि यह क्या आइटम है। गौरतलब है,कि पूर्व मुख्यमंत्री ने इमरती देवी को अपने शासनकाल में महिला एवं बाल विकास मंत्री बनाया था।

इमरती की बनेगी जलेबी: अजय सिंह

इधर,गोहद व डबरा में दो अन्य जनसभाओं में संबोधन के दौरान पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने महिला मंत्री को लेकर टिप्पणी की। उन्होंने कहा,कि जनता तीन नवंबर को इमरती की जलेबी बना देंगे। उन्होंने पूर्व विधायकों पर बिकने का आरोप लगाते हुए कहा,कि वे भोपाल में मंहगे से मंहगा प्लाट खरीद रहे हैं। जलेबी देवी के पास जब कोई मतदाता अपना काम लेकर जाता है तो उनका सीधा जवाब होता है कि पहले मोहनसिंह से हिसाब किताब कर लो।

गरीबों,महिलाओं का अपमान करते शर्म आना चाहिए: शिवराज

काांग्रेस नेताओं के ये बयान आते ही कुछ किमी दूरी पर शिवपुरी के पोहरी औऱ करैरा में सभा कर रहे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कांग्रेस नेताओं क ी कड़ी निंदा की। उन्होंने कहा,कि लगता है,कांग्रेस नेताओं को ऊपर से फ्री हैंड मिला हुआ है। चाहे जब किसी महिला का,गरीब का अपमान करो। इमरती देवी इस प्रदेश की मंत्री हैं। उनके बारे में इस तरह की टिप्पणी करने पर कमलनाथ को शर्म आना चाहिए। यह ,वह देश है, जहां द्रौपदी के अपमान पर महाभारत हो गई और एक वंश का नाश हो गया। भारत ने कभी बहन-बेटियों का अपमान बर्दाश्त नहीं किया है और न ही कभी करेगा। ये कांग्रेस के संस्कार हैं

उन्होंने कहा,कि कमल नाथ आपके संस्कार होंगे जनता को पैरों तले कुचलने के, लेकिन हमारे संस्कार जनता के आगे शीश झुकाने के हैं। वे कहते हैं कि मुख्यमंत्री तो घुटने टेकता है। शिवराज सिंह तो नालायक है। शिवराज नंगे-भूखे परिवार से आते हैं। मैं पूछना चाहता हूं, कि किसान परिवार से आने वाले को सरकार चलाने का हक नहीं है क्या।

मुख्यमंत्री आज रखेंगे दो घंटे का मौन व्रत

नवरात्रि के मौके पर महिला के अपमान के विरोध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कल सुबह 10 से 12 बजे तक भोपाल में मौन व्रत धरना देंगे। उन्होंने कहा,कि इमरती देवी एक अनुसूचित जाति गरीब के घर पैदा हुई। मजदूरी कर विधायक और मंत्री बनी। भाजपा किसी गरीब की बेटी का अपमान सहन नहीं करेगी। देवता वहीं निवास करेंगे। जहां मां,बहन और बेटी का सम्मान व इज्जत की नजरों से देखा जाएगा।

दिग्विजय भी कह चुके हैं,टंच माल

गौरतलब है,कि पूर्व के चुनाव में कांग्रेस के एक अन्य वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह भी अपनी ही पार्टी की प्रत्याशी मीनाक्षी नटराजन के लिए मंच से 'टंच माल' शब्द का इस्तेमाल कर चुके हैं। उनके इस बिगड़े बोल की लिए भी तब कांग्रेस की खासी किरकिरी हुई थी।

Next Story
Share it
Top